Browsing Category

फेफड़े संबंधी रोग

निमोनिया का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Pneumonia ]

निमोनिया का अर्थ 'फुफ्फुस प्रदाह' है। छाती के दोनों पार्श्व में श्वास-प्रश्वास के जो दो यंत्र हैं, उनको फुफ्फुस (Lungs) कहते हैं। फुफ्फुस में श्वास वायु रहती है। श्वास-नली के बीच से वायु आया-जाया करती है, अर्थात वायु श्वास के द्वारा फुफ्फुस…

ब्रोंकाइटिस का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Remedies For Bronchitis ]

ब्रोंकाइटिस को वायु-नली का प्रदाह भी कहते हैं। गले की जिस नली के भीतर से वायु का आवागमन होता है, उसके मध्य भाग को ट्रेकिया (Trachea) कहते हैं। इस ट्रेकिया के नीचे वाले अंश से दो मोटी नली (Bronchial Tube - वायु नली) दोनों ओर विभक्त होकर…

इन्फ्लूएंजा का होम्योपैथिक उपचार [ Homeopathic Medicine for Influenza ]

यह एक लरछूत और बहुत ही व्यापक रोग है। एक प्रकार का कीटाणु (Bacillus) इस रोग में मौजूद रहता है। सर्दी लगना, ज्वर, सिर में दर्द, आंख और नाक से पानी गिरना, छींक, खांसी, देह टूटना, देह (शरीर) में दर्द - इस रोग के प्रधान लक्षण हैं। साधारण सर्दी,…

क्रूप खांसी का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Croup Cough ]

बोलचाल की भाषा में इसे 'काली' या 'सूखी खांसी' कहते हैं। साधारणतः यह खांसी 1 वर्ष से लेकर 4-5 वर्ष तक के बच्चों को ही हुआ करती है। इससे अधिक आयु हो जाने पर प्राय: नहीं होती और होती भी है तो उतनी भयंकर नहीं होती। क्रूप दो प्रकार का होता है -…

कुकुर खांसी (हूपिंग कफ) का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Remedy For Whooping Cough ]

इसका दूसरा नाम-पार्टुसिस (Pertussis) है। साधारणतः 2 वर्ष से नीचे के बच्चों को ही यह रोग हुआ करता है। यदि रोग बहुव्यापक (एपिडेमिक) हुआ, तो 8 वर्ष की आयु तक भी आक्रमण कर सकता है। हूपिंग-कफ का आक्रमण जीवन में केवल एक ही बार होता है और कहा जाता…

खांसी का इलाज होम्योपैथी में [ Homeopathic Medicine For Cough And Sore Throat ]

खांसी क्यों उठती है? इसे समझने के लिए यह आवश्यक है कि मुख से फेफड़ों तक जो श्वास-प्रणालिका है, उसके भिन्न-भिन्न स्थानों की शोथ से खांसी होती है। मुख में तालु का हिस्सा गलकोश या फैरिंग्स कहलाता है। गलकोश के बाद श्वास-प्रणालिका आरंभ होती है,…