Browsing Category

Nose Diseases

नासार्बुद का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Nasal Polyps ]

यह अर्बुद नाक के भीतर की श्लैष्मिक-झिल्ली से उत्पन्न होता है और एक प्रकार की गांठ का-सा होता है। यह गांठ एक से ज्यादा भी हो सकती हैं। रोगी जब बोलता है, तब ऐसा लगता है कि वह नाक से बात कर रहा है। वह नाक से श्वास न लेकर मुंह से श्वास लेता है…

नकसीर फूटना या नोज़ ब्लीड्स या एपिस्टैक्सिस का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For…

यह रोग यदि साधारण ढंग का हो, तो प्रायः औषधि की आवश्यकता नहीं पड़ती, किंतु यदि बार-बार यह रोग होने लगे, तो इसे रोकना आवश्यक हो जाता है। रक्त सदैव एक ही ओर से न आकर, स्वर-नली, गलकोष या आमाशय में से आ जाता है। नाक में या सिर में चोट लगना,…

परागज ज्वर का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Seasonal Allergies, Hay Fever ]

इस फीवर का संबंध नाक की श्लैष्मिक-झिल्ली से है। इसमें जुकाम होता है, आंख-नाक से पानी बहता है, हल्का ज्वर हो आता है। आरंभ में साधारण सर्दी लग जाने से ऐसा होता है। कभी-कभी आंधी, धूल, किन्हीं विशेष फूलों की महक, धुआं, सूर्य की चौंध आदि के कारण…

छींकें आने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Sneezing ]

किसी भी कारण से व्यक्ति को छींकें आ सकती हैं। कभी-कभी सर्दी-गर्मी के कारण छींकें आने लगती हैं, किसी को बचपन से ही छींके आने का रोग होता है, तो किसी के छींके आने का कारण एलर्जी होता है। जुकाम आदि भी छींके आने की वजह हो सकता हैं। छींके आना…

ठंड के साथ सिहरने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Cold with Shivering, Rigors ]

जब किसी को अत्यधिक सर्दी लगती है, तो सर्दी लगते समय उसके शरीर में सिरहावन-सी दौड़ जाती है, ऐसे समय में उसके मस्तिष्क में केवल एक ही बात होती है और वह है, उस सिरहावन से बचना।। आर्सेनिक 30 — यदि खुली वायु में आते ही सिरहन-सी चढ़े, शरीर ठंड…

हमेशा ठंड लगने का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Coldness ]

बहुत से लोगों को ठंड बहुत लगती है, चाहे वो कितने ही कपड़े पहन लें, उन्हें ठंड लगती रहती है। कभी-कभी ठंड शरीर के किसी एक विशेष भाग में महसूस होती है। जुकाम और ज्वर इसके विशेष लक्षण हैं। हेलोडर्मा 30 — सारे शरीर में ठंड का अनुभव होना इसका…

सर्दी से जुकाम का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Cold Catarrh ]

सर्दी से जुकाम हो जाना एक आम बात है, किंतु कभी-कभी सर्दी से वायुनली में सूजन आ जाती है, इससे जुकाम, खांसी और ज्वर आदि भी हो जाया करता है। जुकाम के साथ-साथ खांसी की शिकायत भी हो जाती है। आर्सेनिक 3 — यदि सर्दी के दिनों में या सर्दी के कारण…

पनीला जुकाम का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Treatment For Runny and Watery Nose ]

आर्सेनिक एल्बम 30 — पनीले जुकाम में नाक यदि बंद रहे, ठसी हुई हो, छींके आती हैं, किंतु छींकने से जरा भी आराम नहीं मिलता; नाक में अंदर पंख के फड़फड़ाने जैसी खुजली होती है। रोगी को ठंड लगने से जुकाम होता ही रहता है, मौसम बदला नहीं कि छींकों के…

नाक बंद हो जाने वाला खुश्क जुकाम का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Dry Catarrh ]

नक्सवोमिका 6, 30 — यदि रोगी शीत-प्रकृति का हो और जुकाम के कारण उसकी नाक बार-बार बंद हो जाती हो, जिस कारण उसके माथे में दर्द हो जाता हो, तब इस औषधि से उसे लाभ होता है। स्टिक्टा 6 — नाक की जड़ में भारीपन बना रहता है, फिर भी नाक भीतर से खुश्क…

पुराना जुकाम होने पर का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Chronic Catarrh ]

गैफाइटिस 6 — जिन रोगियों की नाक हमेशा भरी रहती है, ठस्स रहती है। मुंह से जिन्हें श्वास लेना पड़ता है, कोई त्वचीय रोग होता है, उनके पुराने जुकाम में यह लाभकारी है। आर्स आयोडाइड 2x — जिनका जुकाम हर समय बना रहता है, किसी दम उनका पीछा नहीं…

जुकाम या नजला या प्रतिश्याय का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Nasal Catarrh ]

शीतऋतु में बहुत से लोग छोटे-बड़े प्रतिश्याय (जुकाम) से बहुत पीड़ित होते हैं। कुछ लोगों को ग्रीष्म-ऋतु में भी जुकाम हो जाता है। जुकाम प्रायः सर्दी-गर्मी के प्रकोप से होता है। यह सर्दी-गर्मी जलवायु या खाने-पीने की चीजों से लग सकती है।…