मस्तिष्क की चोट का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Concussion of The Brain ]

0 741

सिर में चोट लगने, गिर जाने आदि कारणों से मस्तिष्क के काम में गड़बड़ी हो या वह काम करना बंद कर दे, तो उसे “मस्तिष्क का विकंपन” कहते हैं। एकदम या थोड़ी बेहोशी, चेहरा मलिन, द्रुत, अनियमित, क्षुद्र या लुप्तप्राय नाड़ी, कमजोर और अनियमित श्वास, हाथ और पैर ठंडे, पुकारने पर रोगी जागता हो या जवाब देता हो और तुरंत ही बेहोश हो जाता हो इत्यादि इस रोग की प्रथमावस्था है। इसके पश्चात प्रतिक्रिया आरंभ होती है, अर्थात रोगी होश में आता है, शरीर का ताप बढ़ जाता है। बेचैनी और वर्मन आदि लक्षण उत्पन्न होते हैं।

आर्निका 3x — रोग की प्रथमावस्था में यह औषधि लाभ करती है।

एकोनाइट 3x — यदि ज्वर हो जाए, तब दें।

Loading...

बेलाडोना 3 — सिर में तेज दर्द, चेहरा तमतमाया हुआ आदि लक्षणों में उपयोगी है।

ओपियम 3 — श्वास में घरघराहट होने पर प्रयोग करें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.