खून जमा होने से सिरदर्द का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Congestive ]

0 145

ग्लोनॉयन 6 — यदि रक्त-संचय के कारण सिरदर्द हो, ब्लड-प्रेशर हाई हो, जरा-सा सिर हिलाते ही दर्द बढ़ जाता है, सिर पर गर्मी बर्दाश्त नहीं होती, तब यह प्रयोग करें।

साइलीशिया 30 — रात में रक्त-संचय के कारण सिरदर्द हो, ऐसी टपकन हो मानो सिर फट जाएगा, तब इस औषधि को देने से लाभ होता है।

एकोनाइट 6 — सिरदर्द में यदि रोगी का चेहरा लाल हो जाए, सिर फटा जाता हो, तो इस औषधि का प्रयोग करें।

Loading...

नक्सवोमिका 30 — प्रातःकाल भोजन के बाद सिरदर्द होने में उपयोगी है।

पल्सेटिला 30 — यदि ऋतु-धर्म के अवरुद्ध हो जाने से सिरदर्द हो, तो इससे लाभ होता है।

ब्रायोनिया 30 — सिर भारी हो, रक्त-संचय के कारण सिरदर्द हो, मिजाज चिड़चिड़ा हो जाए; सिर हिलाने से दर्द बढ़ जाए, चलने-फिरने से आराम मिले, तब यह औषधि दें।

कैल्केरिया कार्ब 200 — यदि किसी रोगी को सदैव सिर में रक्त संचय के कारण सिरदर्द हो जाता हो, मस्तिष्क में टपकंन-सी महसूस होती हो, स्त्री को मासिक-धर्म में बहुत अधिक रक्त जाने के कारण सिरदर्द होता हो, तो इस औषधि से अति शीघ्र लाभ हो जाता है।

बेलाडोना 6 — यदि सिरदर्द के साथ गले की धमनियों में टपकन हो, सिर में बोझ-सा मालूम हो, सो जाने का मन हो, तब यह उपयोगी है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.