आधासीसी (आधे सिर में दर्द) का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Hemicrania, Migraine ]

0 374

इस प्रकार का दर्द प्रायः यकृत से संबंधित होता है, इसलिए इस दर्द में प्रायः जी मिचलाता है और कभी-कभी वमन भी हो जाता है। यह दर्द दाएं या बाएं आधे सिर में होता है। यह दर्द रोगी को सहन नहीं होता; रोगी को प्रकाश भी सहन नहीं होता, वह बेचैन हो जाता है।

नैट्रम सल्फ 12x — यह यकृत के लिए लाभप्रद औषधि है। आधे सिर के दर्द का कारण इसमें विकार हो सकता है; सीलन भरे स्थान में रहने, गंदे पानी की सब्जियां खाने और मुर्गा-मछली खाने से भी इस दर्द की उत्पत्ति हो जाती है। इसमें यह औषधि उपयोगी है।

ओनोस्मोडियम 30 — सुबह के समय सिर में बहुत तेज दर्द, विशेषकर बाईं तरफ; कनपटियों व कान के पीछे की हड्डी में दर्द, आंखों पर बोझ पड़ने के कारण दर्द हो, तो यह औषधि दें।

Loading...

सोरिनम 200 — इस औषधि का विलक्षण-लक्षण यह है कि सिरदर्द के आक्रमण में रोगी को बहुत भूख लगती है; सिर में हथौड़े लगने जैसा दर्द होता है।

साइलीशिया 30 — आधे सिर का दर्द बहुत असहनीय होता है, रोगी को आंखें बंद करने पर आराम मिलता है। इस औषधि में सिरदर्द का समय-समय पर लौट आना पाया जाता है।

रोबिना 6 — पेट में अम्ल अधिक होने से आधे सिर में दर्द हो जाता है। सिर के सामने के हिस्से में हल्का-हल्का टपक मारने वाला दर्द होना, जो हरकत करने और पढ़ने-लिखने से बढ़ जाता है। सिरदर्द के साथ अम्लती जुड़ी हुई हो, तो इस औषधि से लाभ होता है।

सल्फर 30 — निश्चित समय पर होने वाली सिरदर्द यदि बार-बार लौट आए, कनपटियों में भारीपन महसूस हो, तब यह औषधि उपयोगी है।

सैंग्विनेरियो (मूल-अर्क) 3 — इसका सिरदर्द सिर के दाईं ओर अधिक होता है; सूर्य की गर्मी के साथ यह दर्द बढ़ता है और फिर यह दर्द दाईं आंख के ऊपर आकर ठहर जाता है।

बेलाडोना 30 — आधासीसी के दर्द में यदि दर्द उग्र रूप में दाईं तरफ हो, तो इससे शीघ्र लाभ होता है।

स्पाइजेलिया 3, 30 — यदि आधासीसी में दर्द सिर के बाईं तरफ हो, रोगी रोशनी और शोर बर्दाश्त न कर पाए। दर्द प्रातःकाले आरंभ होकर दोपहर तक बढ़ जाता हो, तो यह अत्युत्तम औषधि है।

रोग के आक्रमण के समय — चियोनैन्थ, जेलसिमियम, मैंगुइनेरिया या आयरिस का सेवन करना चाहिए, कम रोशनी वाले शांत कमरे में सोना चाहिए तथा पतली चीजें खानी या पीनी चाहिए। इससे आधे सिर के दर्द में लाभ हो जाता है और वह हमेशा के लिए चला जाता है।

विराम के समय — नैजा, नक्सवोमिका, पोडोफाइलम, सिपिया, स्पाइजेलिया, चायना, आर्स, काफिया, कैलि कार्ब, कैलि बाईक्रोम, ब्रायोनिया या आगे लिखी किसी औषधि को चुनकर कुछ दिनों तक सेवन करनी चाहिए। इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी प्रकार की शारीरिक या मानसिक उत्तेजना या किसी प्रकार की स्वास्थ्य-विधि का लंघन न हो जाए और मांस-मदिरा आदि उत्तेजक भोजन और रात को देर तक जागना एकदम त्याग देना चाहिए।

अन्य औषधियां — पूनस-स्पाइनोसा 3, 6 और सैंगुइनेरिया 3x, 200; प्लैटिना 6, पल्सेटिला 3, सिलिका 30-ये औषधियां बाईं ओर के सिरदर्द में लाभ करती हैं। डॉ० काउपरथायेट निम्न औषधियां सेवन करने की राय देते हैं

ड्युबोइसिन 3x, विरेट्रम विरिड 3x, इपिकाक 30, स्ट्रिकनिया 30, एट्रोपिन 3x या 30; हायोसियामिन-हाइड्रोबोमेट्स 6x चूर्ण और केनाबिस-इण्डिका 8, 3x। डॉ० हेम्पेल गाढ़ी काली कॉफी के साथ सैलिसिलेट ऑफ सोडा 20-30 ग्रेन सेवन करने की राय देते हैं। रोग के आक्रमण के समय यदि तेज सिरदर्द हो, तो जेलसिमियम 1X, 3; आइरिस 1X, 30; चियोनैन्यस 8, 2x और सेंगुइनेरिया 8 आदि औषधियां तत्काल प्रभाव दिखाने वाली हैं।

सिरदर्द की अन्य औषधियां निम्नलिखित हैं —

नक्सवोमिका 30 — मस्तक में रक्त-संचय की अधिकता से सिरदर्द के साथ सिर में चक्कर आना और कब्जियत भी हो, तो यह औषधि लाभकारी है।

बेलाडोना 6, 30 — चेहरा लाल-भभूका, आंखें गरम और बड़ी-बड़ी मालूम होना।

ब्रायोनिया 6 — यदि सिरदर्द के साथ वमन भी हो, तो उपयोगी है।

ग्लोनोइन 30 — सिरदर्द में ऐसी टनक मानों सिर दर्द से फटा जा रहा हो।

काक्युलसे 30 — मिचली और वमन के साथ सिरदर्द; मुंह से कफ या पानी निकलना।

विरैट्रम-एल्बम 6, 30 — वमन के कारण सिरदर्द, साथ ही सुस्ती और ठंडा पसीना रहने पर।

काफिया 200 — स्नायविक-सिरदर्द के साथ निद्रा का न आना।

सिमिसिफ्यूगा 6x — स्त्रियों को हिस्टीरिया के कारण सिरदर्द होने पर; विशेषकर ऋतु में गड़बड़ी के लक्षण रहने पर इस औषधि का प्रयोग करना चाहिए।

ऐकोन 30 — सर्दी के साथ सिरदर्द होने पर और रक्त-संचालन में गड़बड़ी रहने पर।

आइरिस 30, 200 — सिरदर्द के साथ बहुत अधिक पित्त का वमन होने पर।

पुराने सिरदर्द में — सल्फर, कैल्केरिया कार्ब, नैट्रम म्यूर, किनिनम सल्फ 3x, 30; सिपिया, कैलि बाईकार्ब, सेंगुइनेरिया, नक्सवोमिका, आर्सेनिक, काक्युलस, जिंकम आदि औषधियों 6 से 30 शक्ति तक की लाभ करती हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.