सहानुभूति का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Sympathy ]

0 189

लिलियम टिग्रिनम 30 — प्रायः जरायु-संबंधी रोगों में इसका प्रभाव है। चलते-फिरते रहने से ऋतु-स्राव होता है, बैठ जाने या लेट जाने से अथवा आराम करने से बंद हो जाता है। जरायु-संबंधी रोग से ग्रस्त रोगिणी को सहानुभूति दर्शाई जाए, तो उसे अच्छा नहीं लगता, क्रोध आ जाता है। जिन्हें हिस्टीरिया होता है, उनके लक्षण सहानुभूति दर्शाने से बढ़ जाते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.