कुस्वभावी बच्चे का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Difficult Children ]

0 317

यदि बड़े बच्चे अत्यंत उत्तेजित स्वभाव के हों; बेचैन, चिड़चिड़े और धैर्यहीन हों, अथवा गोद के बच्चे मां की गोद में जाते ही शांत हो जाते हों, तब उन्हें निम्न औषधियों से लाभ हो सकता है।

कैमोमिला 30 — बच्चों के लिए यह उत्तम औषधि है। उनकी उत्तेजितावस्था, चिड़चिड़ापन, बेचैनी और अधीरता को यह शांत कर देती है।

Loading...

कॉस्टिकम 6, 30 — जिन बच्चों का विकास ठीक प्रकार से नहीं होता है, वे डरपोक स्वभाव के होते हैं, वे देर से चलना और बोलना सीख पाते हैं और सदा घबराए रहते हैं।

आयोडियम 3, 6 — जिस बच्चे के शरीर की ग्रंथियां ठीक तरह से काम नहीं करती हैं, वे हमेशा भूख से बेहाल रहते हैं। यह औषधि ऐसे बच्चे के लिए लाभप्रद सिद्ध होती है।

इग्नेशिया 30 — जो बच्चा अत्यंत उद्धेगी स्वभाव का, दुखी, हतोत्साहित होता है; अनायास ही चिल्ला पड़ता है और नर्वस होता है, उसके लिए यह औषधि बहुत उपकारी है।

सीपिया 6, 30 — इसके बच्चे का मन पढ़ाई-लिखाई में नहीं लगता है। वह स्वभाव से उजड्डु, उदासीन, दुखी और शरीर से थका-मांदा-सा होता है। ऐसे बच्चे को इस औषधि से शीघ्र लाभ हो जाता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.