मोटापा का होम्योपैथिक इलाज [ Homeopathic Medicine For Obesity (Corpulence) ]

0 913

जिस प्रकार दुबला-पतला और सूखा शरीर अच्छा नहीं लगता, उसी प्रकार मोटापा भी अच्छा नहीं होता। मोटे शरीर को हृदय-रोग और बहुमूत्र आदि बहुत से रोग आ घेरते हैं। देखने में भी मोटा शरीर आकर्षक नहीं होता। भागने-दौड़ने में भी यह व्यक्ति सदा पीछे ही रहता है।

ऐण्टिम क्रूड 6 — युवाओं के मोटापे को दूर करने की यह उत्कृष्ट औषधि है।

गैफाइटिस 3x — यह औषधि उन स्त्रियों के लिए हैं, जो शरीर से बहुत मोटी है, जिनके लिए चलना भी दुश्वर होता है और मोटापा दूर करने के लिए वह खाना कम कर देती है, जिससे वह कमजोर हो जाती है, तब यह औषधि लाभ करती है।

Loading...

फाइटोलैक्का बेरी (मूल-अर्क) 3 — यह औषधि भी मोटापा दूर करने में अद्वितीय है। इसकी 2 से 4 बूंद प्रति आठ घंटे लें। कुछ ही दिनों में प्रभाव दिखने लगेगा।

थॉयरॉयडीनम 30 — थायरॉयड ग्लैंड के कारण शरीर की चर्बी बढ़ जाती है। इस औषधि के प्रयोग से चर्बी घटने लगती है। ब्लड प्रेशर यदि हाई हो, तो यह औषधि नहीं देनी चाहिए।

फूकस वर्सीकुलोसस (मूल-अर्क) — इसकी 8 से 10 बूंद भोजन से पहले लें, अधिक उपयोगी है।

कैल्केरिया कार्ब 30, 200 — यदि रोगी का शरीर मोटा-ताजी और थुलथुला हो, पसीना अधिक आता हो, तब मोटापा दूर करने में यह औषधि लाभ करती है। शरीर की रचना को देखकर औषधि की शक्ति का निर्णय करना चाहिए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.